DU ने प्राइवेट तरीके से EVM हासिल की!

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। ईवीएम मशीन के कारण विवादों के साए में आए दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ के (डूसू) चुनावों में गुरूवार को देर शाम दोबारा मतगणना शुरू करवाई गई।

पक्ष-विपक्षों में चले आरोप-प्रत्यारोप के दौर के बाद निशाने पर आए चुनाव आयोग को भी सफाई देने के लिए बीच में कूदना पड़ा है। ईवीएम मशीन की गड़बड़ी पर चुनाव आयोग ने अपनी सफाई दी है।

इस बारे में बात करते हुए इलेक्शन ऑफिसर मनोज कुमार ने कहा, चुनाव आयोग की ओर से दिल्ली यूनिवर्सिटी को ईवीएम मशीनें आवंटित नहीं की गई है। राज्य चुनाव आयोग ने भी इस बात की पुष्टि की है कि उनकी ओर से कोई ईवीएम नहीं दी गई है। ऑफिसर ने कहा, ऐसा लगता है कि दिल्ली यूनिवर्सिटी ने प्राइवेटली इन मशीनों को खरीदा है।

चुनाव आयोग के इस खुलासे से एक तरफ कई तरह के सवाल खड़े होते हैं, तो वहीं दूसरी तरफ खुद चुनाव आयोग भी कटघरे में आ गया है। देश की नीति-नियंताओं के बारे में फैसला देने वाली मशीन काे ऐसे कोई शैक्षिक संस्थान किस तरह से प्राइवेट रूप से खरीद सकता है, यह अपने आप में सोचने वाली बात है।

बता दें कि नॉर्थ कैंपस में ABVP और NSUI के बीच सीधी टक्कर देखने को मिली, जबकि बाहरी दिल्ली व देहात के कॉलेजों में सीवाईएसएस और आइसा पैनल का भी दमाखम दिखाई दिया। एक दो स्थानों पर कॉलेज में प्रत्याशी समर्थकों के घुसने या ईवीएम खराब होने के चलते हल्का-फुल्का हंगामा हुआ अन्यथा मतदान शांतिपूर्ण तरीके से निपट गया।