गुजरात: विधायकों और मंत्रियो के वेतन-भते में ₹45 हज़ार प्रति माह से अधिक की बढ़ोत्तरी 

गुजरात के विधायकों और मंत्रियो के वेतन-भते में 45 हजार रुपए प्रति माह से अधिक की बढ़ोत्तरी को पिछले साल दिसंबर के पूर्व प्रभाव से मंजूरी देने वाले विधेयक को आज राज्य विधानसभा में सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। इसके साथ ही विधायकों का वेतन 70 हजार रूपये बढ़ कर लगभग 1 लाख 16 हजार रूपये और मंत्रियो का वेतन लगभग 87 हजार रूपये बढ़ कर एक लाख 32 हजार रूपये हो गया है। इससे पहले वर्ष 2005 मे ऐसी वेतन वृद्धि हुई थी।

PunjabKesari

खास बात है कि मात्र दो दिनों के लिए आहूत सदन के मानसून सत्र के दूसरे और अंतिम दिन की कार्यसूची में इस विधेयक का उल्लेख नहीं था पर इसे अंतिम समय में जोड़ कर आनन फानन में सदन मे पेश किया गया और सत्ता पक्ष तथा पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोत्तरी के खिलाफ सरकार के खिलाफ जबरदस्त मोर्चा खोलने वाले विपक्ष ने एक स्वर में इसका समर्थन किया। PunjabKesariगृह राज्य मंत्री तथा विधायी कार्यमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा ने कहा कि गुजरात में विधायकों का वेतन पंजाब, महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तराखंड समेत कई अन्य राज्यों की तुलना में खासा कम था। भाजपा के विधायक मधु श्रीवास्तव ने कहा कि यह वृद्धि इसलिए स्वागत योग्य है क्योंकि विधायक को कई तरह के जरूरी खर्चे करने पड़ते हैं।

PunjabKesari
कांग्रेस विधायक ललित वसोया ने भी इसका स्वागत करते हुए कहा कि उनके हिसाब से विधायकों का वेतन और बढ़ता तो अच्छा होता क्योंकि वह इसके जरिये अपने क्षेत्र के जरूरतमंदों की बेहतर सेवा कर पाते। उधर, कांग्रेस के विधायक प्रदीप दुधात ने कहा कि इस विधेयक के पारित होते समय वह विधानसभा में नहीं थे और किसानों के कुछ जरूरी मुद्दे हल होने तक वह वेतन वृद्धि का लाभ नहीं लेंगे।