क्या अमित शाह ने कहा कि दिल्ली में सौ करोड़ घुसपैठिये घुसे हैं?

हम सवेरे दफ्तर पहुंचे तो अखबार पढ़ा. इंडियन एक्सप्रेस में एक खबर छपी थी. जनसत्ता की वेबसाइट पर भी लगी थी. कि 23 सितंबर यानी संडे को अमित शाह दिल्ली के रामलीला मैदान में थे. प्रोग्राम का नाम था पूर्वांचल महाकुंभ. वहां अमित शाह ने बोल दिया “दिल्ली में सौ करोड़ घुसपैठिये आ घुसे हैं.” ये सौ करोड़ वाली बात झमक के शेयर हो रही है.

इसके बाद इस खबर की बिना पर सोशल मीडिया पर लोग अमित शाह की मौज लेने लगे. ब्लू टिक वालों से लेकर आम अकाउंट वाले सब इन खबरों को आधार बनाकर शेयर कर रहे थे या ट्रोल कर रहे थे.

हमको लगा कि भई ये तो भारी समस्या है. अगर इत्ते बड़े मंच से कोई नेता ऐसा बोल रहा है तो जरूर उसके नाश्ते में कुछ मिलाया गया होगा. हम तो खींचने वाले थे लेकिन बिना स्पीच सुने नहीं. पूरी स्पीच सुन डाली. जहां पर ये पैराग्राफ आता है जो खबर में मेंशन था.

“दिल्ली के अंदर अवैध घुसपैठियों से परेशानी है या नहीं? इन्हें देश से निकालना चाहिए या नहीं? 100 करोड़ की तादाद में घुसपैठिये घुस गए हैं और दीमक की तरह चाट गए हैं देश को. उखाड़ फेंकना चाहिए या नहीं?”

असल स्पीच में सौ करोड़ था ही नहीं. उसकी जगह अमित शाह ने करोड़ों बोला था. नीचे लगे वीडियो लिंक में स्पीच का वो हिस्सा देखा जा सकता है. फेसबुक, ट्वीटर पर बीजेपी के ऑफिशियल पेज, चैनल से ये लाइव किया गया था. इस पर क्लिक करेंगे तो वहीं से स्पीच शुरू होगी जिस जगह का जिक्र है.


तो भैया गलत खबर कहीं से भी आ सकती है. बिना देखे सुने भरोसा न करें. अगर कोई अपुष्ट चीज वायरल हो रही है तो हमको भी भेजिये

साभार:आसुतोष-लल्लनटॉप.कॉम