सुप्रीम कोर्ट: प्रशिक्षण पूर्व टेट धारक शिक्षकों के मामले में सुनवाई टली, अगली तारीख 23 अक्टूबर निर्धारित

वैरागी

उत्तर प्रदेश के 50 हजार शिक्षकों के मामले में आज सुनवाई एक माह के लिये सुप्रीम कोर्ट ने स्थगित कर दी। 2012 से 2018 के बीच प्राथमिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों पर नौकरी का संकट मंडरा रहा संकट कुछ समय के लिए टल गया है।
ये वे शिक्षक हैं जिन्हें हाई कोर्ट ने कहा कि जिन शिक्षकों की ट्रेनिंग (B.Ed BTC) टेट के परिणाम के बाद पूर्ण हुई है उनकी नियुक्ति मान्य नहीं है।

इस केस में आज बिना किसी प्रभावी सुनवायी अगली तारीख 23 अक्टूबर 2018 निर्धारित की गई है। आज चूंकि कई पक्षो के हलफनामे और रेजोइंडेर न आने पाने पर अगली डेट की अनुरोध किया गया था, जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया और अगली डेट दे दी। सभी अधिवक्ता कोलिन गोंजाल्विस साहब , वी शेखर साहब, आर बी सिंघल साहब, यतीन्द्र सिंह साहब, वी मोहना मैडम जी, पराग त्रिपाठी साहब कोर्ट में उपस्थित रहे।