हिमाचल प्रदेश: ट्रैकिंग पर गए आईआईटी रुड़की के 35 छात्रों सहित 45 लापता

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश और बर्फबारी से हालात बदतर हो रहे हैं। अब खबर आ रही है कि लाहौल स्पिति जिले में ट्रैकिंग के लिए गए 45 लोग लापता हैं और इनमें 35 आईआईटी रुड़की के स्टूडेंट भी हैं। हिमाचल में पिछले दो-तीन दिनों से भारी बारिश हो रही है और बर्फबारी भी हुई है। यहां अब तक जान-माल का काफी नुकसान हुआ है। परिवार जनों ने बताया है कि इन लापता कहे जा रहे लोगों से उनका संपर्क टूट चुका है। न्यूज एजेंसी एएनआई ने सोमवार देर रात इसकी जानकारी दी।

यहां देखें टि्वट-

लापता दल में शामिल एक आईआईटी स्टूडेंट अंकित भाटी के पिता राजवीर सिंह ने एएनआई को बताया कि वे सभी हम्पता पास के लिए ट्रैकिंग पर गए थे और उन्हें मनाली लौटना था। लेकिन उनसे संपर्क टूट चुका है। एएनआई ने मंगलवार सुबह ट्वीट कर बताया कि लाहौल-स्पीति घूमने गए लापता हो चुके 8 लोगों का एक ग्रुप सुरक्षित है। इनमें ब्रुनेई की एक महिला संजीदा तुबा, नीदरलैंड के एबी लिम और 6 भारतीय नागरिक प्रियंका वोरा, पायल देसाई, दीपिका, दिव्या अग्रवाल, अभिनव चंदेल और अशोक हैं।

बता दें कि हिमाचल में बारिश से आई अचानक बाढ़ और भूस्खलन के चलते अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। हिमाचल प्रदेश में मूसलाधार बारिश से कुल्लू, कांगड़ा और चंबा जिले में अलग-अलग घटनाओं में पांच लोगों की मौत हो गई और कुछ घायल भी हुए हैं। कुल्लू जिले को हाई अलर्ट पर रखा गया है। यहां अब तक 20 करोड़ की संपत्ति का नुकसान हो चुका है। कांगड़ा, कुल्लू और हमीरपुर जिलों में सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल-कॉलेजों को बंद रखने की सलाह दी गई है।