यूपी शिक्षक भर्ती: 68500 भर्ती में कोई आरक्षण लागू नहीं, बाराबंकी में 204 अभ्यर्थियों में 3 ओबीसी,1 एससी !!

उत्तर प्रदेश में 68500 भर्ती शुरू से ही विवादों में है। परीक्षाफल और कॉपियों में हेरफेर का मामला तो सामने आया ही है।

दूसरी तरफ इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 68500 सहायक अध्यापकों की भर्ती में विशेष श्रेणी (दिव्यांग, सेनानी आश्रित, एक्स सविर्समैन) के आरक्षण पर राज्य सरकार से दो सप्ताह में जवाब मांगा था। साथ ही कहा कि इस दौरान की गई नियुक्तियां याचिका के निर्णय पर निर्भर होगी।

अब कई जिलों के अचयनित आरक्षण लागू न होने के सुबूत भी पेश कर रहे हैं एक बड़ा खुलासा बाराबंकी ज़िले का हुआ है। बाराबंकी में 204 शिक्षकों की नियुक्ति की गई है जिन में मात्र 3 पिछड़ा वर्ग और 1 अनुसूचित जाति के अभ्यर्थी को ही नियुक्ति मिली है।

अभ्यर्थियों का आरोप है कि भर्ती में आरक्षण व्यवस्था लागू ही नहीं की गई है। और शासन से जारी सूची में उल्लेखित अभ्यर्थियों को सीधे नियुक्ति दे दी गयी है। बता दें कि बेसिक शिक्षा विभाग ज़िला कैडर के अधीन है और नियुक्ति का प्राधिकारी बीएसए होता है। इस मामले में बीएसए को अंधेरे में रख कर पूरी नियुक्तियां की गई है।