राहुल बोले, आईएल एंड एफएस को पीएम मोदी दे रहे हैं बेलआउट, ‘चौकीदार’ की दाढ़ी में है तिनका!

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी और उनकी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी एलआईसी-एसबीआई में लगे जनता के पैसे से 91 हजार करोड़ की कर्जदार आईएल एंड एफएस को बेलआउट दे रहे हैं, ‘चौकीदार’ की दाढ़ी में तिनका है।
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आईएल एंड एफएस के बढ़ते घाटे और उसपर केंद्र सरकार की मेहरबानी को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा है। कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट कर कहा,“लाइटस, कैमरा, स्कैमसीन 1: 2007, सीएम मोदी आईएल एंड एफएस कंपनी को 70 हजार करोड़ का प्रोजेक्ट गिफ्ट सिटी देते हैं। आजतक कुछ काम नहीं। जालसाजियां आईं सामने।सीन 2: 2018, पीएम मोदी एलआईसी-एसबीआई में लगे जनता के पैसे से 91 हजार करोड़ की कर्जदार आईएल एंड एफएस को बेलआउट दे रहे हैं। चौकीदार की दाढ़ी में तिनका”

इससे पहले शनिवार को आरोप लगाते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात का मुख्यमंत्री रहते हुए एक पूरे शहर को आईएल एंड एफएस के हवाले कर दिया था। कांग्रेस ने कहा था कि अपने मुख्यमंत्रित्व काल में नरेंद्र मोदी ने गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस और टेक सिटी-गिफ्ट सिटी के नाम से एक परियोजना शुरू की। इसके लिए सरकार ने 886 एकड़ जमीन सिर्फ एक रुपए की लीज पर दे दी। इस जमीन को गिरवी रखकर अलग-अलग बैंकों से 1100 करोड़ रुपए उगाहे गए। और फिर आईएल एंड एफएस को इसे बनाने का जिम्मा दे दिया गया। इसमें गुजरात सरकार ने सिर्फ 2.5 करोड़ रुपए में आईएल एंड एफएस को इसकी आधी हिस्सेदारी दे दी। उन्होंने कहा कि इस जमीन को पूरी तरह प्रोजेक्ट कंपनी के हवाले कर दिया गया।कांग्रेस ने कहा था, “गिफ्ट सिटी को आईएएल एंड एफएस के हवाले करने के बाद भी उसने प्रोजेक्ट कंसल्टेंसी तक नहीं दी। गुजरात सरकार ने प्रोजेक्ट विकसित करने के लिए आईएल एंड एफएस को 700 करोड़ रुपये सक्सेस फीस और 20 लाख रुपए महीना मैनेजमेंट फीस देना शुरू किया। आईएल एंड एफएस ने यही काम एक निजी कंपनी को 400 करोड़ में दे दिया है।