किसान क्रांति यात्रा LIVE: दिल्ली-यूपी बार्डर पर किसानों पर लाठीचार्ज, आंसू गैस के गोले और वाटर कैनन का इस्तेमाल

किसान क्रांति यात्रा LIVE: किसानों के गुस्से पर बोली बीजेपी- कांग्रेस उन्हें भड़का रही है
कानून व्यवस्था की स्थिति को बनाए रखने के लिए भारी पुलिसबल तैनात किया गया है.

13:09(IST)
मिली जानकारी के मुताबिक, लगभग 5 हजार किसान दिल्ली सीमा में प्रवेश कर चुके हैं.

13:06(IST)
किसान नोएडा सेक्टर 62 गोल चक्कर की तरफ पैदल ही जा रहे हैं. इसके साथ ही आप के कार्यकर्ता किसानों का समर्थन भी कर रहे हैं. प्रशासन किसानों को रोकने की कोशिश कर रहा है. इस बीच दोनों में झड़प भी हुई, जिसमें 20 लोग घायल हुए हैं.

13:04(IST)
बीजेपी का कहना है कि कांग्रेस किसानों को भड़का रही है. हमने किसानों की भलाई के काम किए हैं. फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाया है.

13:09(IST)
मिली जानकारी के मुताबिक, लगभग 5 हजार किसान दिल्ली सीमा में प्रवेश कर चुके हैं.

13:06 (IST)
किसान नोएडा सेक्टर 62 गोल चक्कर की तरफ पैदल ही जा रहे हैं. इसके साथ ही आप के कार्यकर्ता किसानों का समर्थन भी कर रहे हैं. प्रशासन किसानों को रोकने की कोशिश कर रहा है. इस बीच दोनों में झड़प भी हुई, जिसमें 20 लोग घायल हुए हैं.

13:04(IST)
बीजेपी का कहना है कि कांग्रेस किसानों को भड़का रही है. हमने किसानों की भलाई के काम किए हैं. फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाया है.

12:57(IST)
सीपीएम के सीताराम येचुरी ने कहा है कि आजादी के बाद से अब तक किसानों में इतना असंतोष नहीं देखा गया है. इससे एक बार फिर साबित होता है कि मोदी सरकार किसान विरोधी है.

12:45(IST)
कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला ने किसानों को दिल्ली आने से रोके जाने और उनके खिलाफ पुलिस कार्रवाई में कहा है कि महात्मा गांधी की जयंती के दिन ये साबित हो गया कि आजादी के पहले ब्रिटिश राज और आज की सरकार में कोई फर्क नहीं रह गया है

12:42(IST)
न्यूज 18 के मुताबिक पुलिस और किसान की झड़प में एक किसान राधे सिंह घाय़ल हो गए हैं. आंदोलन में शामिल किसान ने कहा है कि पुलिस की कार्रवाई में कई लोगों को चोटें आई हैं.

12:12(IST)
किसानों के मार्च को लेकर गृहमंत्री राजनाथ सिंह के घर पर अहम बैठक चल रही है. इसमें कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह और यूपी के गन्ना मंत्री सुरेश राणा भी मौजूद हैं.

11:54(IST)
किसानों के नेता युद्धवीर सिंह गृहमंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर पहुंचे हैं. इस दौरान राधामोहन सिंह, गजेन्द्र सिंह भी मौजूद रहे.

11:45(IST)
यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा है कि इस सरकार ने किसानों से किए वादे पूरे नहीं किए हैं. इसलिए किसान प्रदर्शन करने को मजबूर हैं

11:43(IST)
इस बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने से क्यों रोका जा रहा है? ये गलत है. हम किसानों के साथ हैं

11:41(IST)
पुलिस वाटर कैनन का इस्तेमाल कर किसानों की भीड़ को तितर-बितर करने की कोशिश कर रही है

11:31(IST)
किसानों ने पुलिस पर पथराव किया है. इसके जवाब में पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया है. पुलिस और किसानों की झड़प तेज हो गई है

11:30(IST)
दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर पुलिस और किसान आमने-सामने आ गए हैं. किसान किसी भी तरह से कोशिश कर रहे हैं कि वो पुलिस का सुरक्षा घेरा तोड़कर अंदर घुस जाए. जबकि पुलिसवाले बल प्रयोग से उन्हें रोकने की कोशिश कर रहे हैं.

11:28(IST)
किसानों ने कई जगह पर पुलिस के बैरिकेट फेंक दिए हैं. पुलिस और किसानों के बीच झड़प हुई है. किसानों का जत्था दिल्ली की ओर बढ़ चला है.

11:28(IST)
किसानों पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े हैं. किसान लगातार आगे बढ़ने का प्रयास कर रहे हैं.

11:25(IST)
किसानों की भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस ने वाटर कैनन का इस्तेमाल किया है. पुलिस किसानों की भीड़ को तीतर-बितर करना चाह रही है. ताकि वो यहीं से वापस लौट जाएं.

11:24(IST)
दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर पुलिस किसानों को रोकने के लिए हरसंभव उपाय कर रही है. हजारों की संख्या में मौजूद किसान अपनी मांगों को लेकर दिल्ली में घुसने को तैयार हैं.

10:07(IST)
भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा है कि हमें दिल्ली यूपी बॉर्डर पर रोक लिया गया है. हम अपनी मांगों को लेकर अनुशासित तरीके से मार्च निकाल रहे हैं. अगर हम अपनी सरकार से भी अपनी बात नहीं करेंगे तो और किससे करेंगे? क्या हमें पाकिस्तान और बांग्लादेश या पाकिस्तान चले जाना चाहिए?

09:52(IST)
किसानों का हुजूम दिल्ली यूपी गेट के पास पहुंच चुका है. भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसान दिल्ली की ओर निकले हैं. पुलिस ने इलाके में धारा 144 लगा रखी है.

हरिद्वार से चला किसानों का मार्च अपनी मांगों को लेकर आज दिल्ली पहुंचेगा. भारतीय किसान यूनियन के हजारों किसान दिल्ली पहुंचने वाले हैं. ऐसे में कानून व्यवस्था की स्थिति को बनाए रखने के लिए भारी पुलिसबल तैनात किया गया है. सोमवार को पूर्वी दिल्ली में एक हफ्ते के लिए धारा 144 लगा दी गई है. यूपी से दिल्ली जाने वाले रास्तों पर पुलिस ने बैरिकेट लगा रखा है.

किसान पूरा कर्ज माफ करने, स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करने, बिजली की बढ़ी दरें वापस लेने और 10 साल पुराने डीजल के वाहनों पर पाबंदी जैसे फरमान वापस लेने की मांगों के समर्थन में मार्च निकाल रहे हैं.

वहीं दिल्ली पुलिस उत्तर प्रदेश पुलिस के भी संपर्क में है. जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि प्रदर्शनकारी किसान दिल्ली में प्रवेश न कर सकें. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘उन्होंने प्रदर्शन के लिए दिल्ली पुलिस से कोई इजाजत नहीं मांगी है.’

भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष राकेश टिकैत बड़ी संख्या में समर्थकों के साथ हरिद्वार से नई दिल्ली के किसान घाट तक किसान क्रांति यात्रा पर हैं. यह मार्च पतंजलि (उत्तराखंड) से मुजफ्फरनगर, दौराला, परतापुर, मोदीनगर/मुरादनगर, हिंडन घाट होते हुए किसान घाट (दिल्ली) तक आयोजित किया जा रहा है. 23 सितंबर से ये मार्च शुरू हुआ था.

(एजेंसी इनपुट के साथ)