किसान क्रांति यात्रा LIVE: सरकार और किसानों के बीच सहमति का दावा, अब केंद्र और यूपी के मंत्री करेंगे किसानों से बात

सरकार और किसानों के बीच सहमति का दावा किया जा रहा है इस बीच अब केंद्र और यूपी के मंत्री किसानों से बात करेंगे।
कानून व्यवस्था की स्थिति को बनाए रखने के लिए भारी पुलिसबल तैनात किया गया है.
फर्स्ट पोस्ट के अनुसार अभी सरकार और किसानों के बीच गतिरोध जारी है. किसान नेता सरकार के फैसलों से सहमत नहीं हैं. किसान सभी मांगों को माने जाने पर अड़े हुए हैं.
किसानों ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने उन्हें रोकने के लिए लाठी चार्ज किया और गोलीबारी भी की
राजनाथ सिंह के साथ चल रही बैठक खत्म होने के बाद गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि ज्यादातर मामलों पर सहमति बन गई है. उन्होंने कहा कि किसान नेता, उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री लक्ष्मी नारायण जी, सुरेश राणा जी और मैं खुद जा के किसानों से मिलेंगे और उन्हें सारी बातें बताएंगे. सिंह ने कहा कि सरकार ने मुख्य मांगों पर अपना पक्ष साफ नहीं किया है. इसलिए किसान सरकार के निर्णय से संतुष्ट नहीं हैं. सरकार ने ऋण छूट पर अपना रुख स्पष्ट नहीं किया है.
भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता ने कहा, ‘सरकार और हमारे बीच 11 बिंदुओं पर चर्चा हुई. जिसमें से सात पर सरकार सहमत थी. जबकि चार बिंदुओं को सरकार ने आर्थिक मामला बताते हुए बाद में फैसला ले कर चर्चा करने को कहा.’