बरेली बेसिक शिक्षा विभाग: स्मार्ट योजना के तहत सोलर लाइट से रोशन होंगे स्कूल्स

-सोलर पैनल लगाने के लिए बीएसए से मांगी गई थी अंधेरे वाले स्कूलों की सूची

-डेढ़ माह बीते लेकिन बीएसए नेडा को उपलब्ध नहीं करा सकीं सूची

2100-प्राथमिक स्कूल
794-जूनियर हाईस्कूल

30 परसेंट स्कूलों में अंधेरा

Inext की खबर के अनुसार स्मार्ट योजना के तहत सोलर लाइट से अब बेसिक स्कूल्स को रोशन किया जाएगा. ताकि बेसिक स्कूल्स के बच्चों को कम्प्यूटर, फैन और रोशनी में पढ़ाई कर सके. लेकिन इसके लिए बीएसए ने पूरी योजना को ही पलीता लगा दिया है. डेढ़ माह पहले शासनादेश आने के बाद यूपी नेडा के अफसरों ने बीएसए तनुजा मिश्रा से ऐसे बेसिक स्कूल्स की लिस्ट मांगी थी, जिनमें बिजली कनेक्शन नहीं है. लेकिन डेढ़ माह बीतने के बाद भी बीएसए ने यूपी नेडा अफसरों को अभी तक स्कूल्स की लिस्ट नहीं सौपी हैं.

धरातल से दूर योजना

शासन ने बेसिक स्कूल्स में दशा और दिशा सुधारने के लिए स्कूल्स में कम्प्यूटर फैन और रौशनी के लिए व्यवस्था करने के लिए आदेश दिया था. अधिकांश स्कूल्स में कम्प्यूटर भी पहुंच गए, लेकिन कंप्यूटर चलाने के लिए करीब 30 प्रतिशत स्कूल्स में बिजली कनेक्शन ही नहीं है. कनेक्शन लग भी गए तो वहां पर बिजली सुचारू नहीं आ रही है. इस अव्यवस्था को दूर करने के लिए शासन ने यूपी नेडा अफसरों के लिए आदेश दिया गया कि वह ऐसे स्कूल्स की लिस्ट बीएसए से जहां पर बिजली व्यवस्था नहीं है. आदेश आते ही नेडा अफसरों ने बीएसए को करीब डेढ़ माह पहले एक पत्र भेजा था. जिसमें उन्होंने बगैर बिजली कनेक्शन वाले जूनियर और प्राइमरी स्कूल्स की लिस्ट मांगी थी. लेकिन बीएसए ने नेडा अफसरों को लिस्ट उपलब्ध नहीं कराई. जिसके चलते योजना को अभी तक धरातल पर नहीं लाया जा सका.

एक सप्ताह में शासन ने मांगी थी रिपोर्ट

नेडा अफसरों ने बताया कि उन्होंने डेढ़ माह में बीएसए के लिए एक बार ही नहीं तीन बार पत्र लिखा है. ताकि वह लिस्ट समय से उपलब्ध करा दे. ताकि बजट बनाकर शासन को भेजकर समय से स्मार्ट योजना का काम पूरा कराया जा सके. लेकिन 2 अक्टूबर तक लिस्ट बीएसए ने उपलब्ध नहीं कराई हैं. जबकि डेढ़ माह पहले आए शासनादेश में स्कूल्स की लिस्ट एक सप्ताह में उपलब्ध कराने को कहा गया था.

शासन की स्कीम के तहत जिन स्कूलों में बिजली कनेक्शन नहीं हैं वहां पर स्मार्ट योजना से स्कूलों में सोलर पैनल से रोशन कराया जाना है. इसके लिए नेडा ने ऐसे स्कूल्स जहां बिजली कनेक्शन नहीं है, ऐसे स्कूल्स की लिस्ट बीएसए से मांगी है.

सीपी सिंह, परियोजना अधिकारी

स्मार्ट योजना के तहत सोलर लाइट से जो स्कूल रोशन होने थे उनकी जानकारी कन्फर्म बीएसए करके ही बता सकता हूं. योजना अच्छी है लेकिन इसे इम्प्लीमेंट कराने के लिए बीएसए को जिम्मेदारी लेनी पड़ेगी.

एसएन सिंह, एडी बेसिक