आर्थिक संकट: विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने देशी बाजार से निकाले 26,585 करोड़ रुपये

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (उदयपुर किरण). विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने अक्टूबर माह के पहले दो सप्ताह में देशी बाजार से 26,585 करोड़ रुपये की निकासी की है. एफपीआई की ओर से निकासी की अहम वजह कच्चे तेल की कीमतों में तेजी और रुपये की विनिमय दर में गिरावट रही है.

इससे पहले पिछले महीने विदेशी निवेशकों ने शेयर और ऋण बाजार से 21,000 करोड़ से अधिक की निकासी की थी. जुलाई-अगस्त के दौरान निवेशकों ने शुद्ध 7,400 करोड़ रुपये का निवेश किया था. डिपॉजिटरी आंकड़ों के मुताबिक विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने एक से सात अक्टूबर के दौरान शेयर बाजार से 7,094 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी की और ऋण बाजार से 2,261 करोड़ रुपये निकाले.

अक्टूबर माह के दूसरे सप्ताह के दौरान विदेशी निवेशकों ने घरेलू बाजार से 17,230 करोड़ रुपये की निकासी की है. विश्लेषकों का मानना है कि कच्चे तेल की कीमतों और अमेरिकी बॉन्ड के प्रतिफल में वृद्धि और वैश्विक स्तर पर डॉलर की आपूर्ति की तंग स्थिति एफपीआई निकासी की प्रमुख वजह है. इसकी वजह से मुद्रा बाजार, बॉन्ड और शेयर बाजार में भारी उथल-पुथल मचा हुआ है.