अमृतसर रेल हादसा: मरने वालों में ज्यादातर यूपी और बिहार के लोग

इस घटना के बाद पंजाब सरकार ने शनिवार को एक दिन के शोक की घोषणा की है. इस दौरान सभी दफ्तर, सरकारी संस्थान और शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे

पंजाब के अमृतसर में दशहरा उत्सव मनाते वक्त शुक्रवार को बड़ा ट्रेन हादसा हो गया. यहां एक ट्रेन की चपेट में आने से अब तक 61 लोगों की मौत हो गई है. दशहरे के मौके पर यह अनहोनी घटना घटी. हादसा उस वक्त हुआ जब लोग अमृतसर के नजदीक चौड़ा बाजार में रेलवे ट्रैक के पास रावण दहन देख रहे थे. उसी समय पठानकोट से अमृतसर जा रही डेमू ट्रेन गुजर रही थी.

न्यूज-18 की खबर के मुताबिक, मरने वालों में ज्यादातर लोग उत्तर प्रदेश और बिहार के हैं. बताया जा रहा है कि रावण दहन के दौरान पटरी के पास लगभग 300 लोग मौजूद थे. इस घटना के बाद पंजाब सरकार ने शनिवार को एक दिन के शोक की घोषणा की है. इस दौरान सभी दफ्तर, सरकारी संस्थान और शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे.

इस घटना के बाद रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है. इन नंबरों पर कॉल कर परिजन जानकारी जुटा सकेंगे. अमृतसर के लिए हेल्प लाइन नंबर 0183-2223171, 0183-2564485 है. मनावला के लिए हेल्पलाइन नंबर है- रेलवे- 73325, बीएसएनल- 01832440024

दशहरे के मौके पर हुए रेल हादसे पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए के मुवाअजे की घोषणा की है. घायलों की सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में मुफ्त ईलाज की भी घोषणा की है. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह शनिवार को खुद घटनास्थल पर पहुंच कर स्थिति का जायजा लेंगे.