सुप्रीम कोर्ट: फर्जी तरीके से जमीन बेचने के आरोप में वसुंधरा राजे को जारी हुआ नोटिस

याचिका में आरोप लगाया गया है कि राजे और उनके बेटे ने इस जमीन पर गलत तरीके से अपना हक जताकर इसे NHAI को 1.97 करोड़ रुपए में बेच दिया

सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और उनके बेटे दुष्यंत कुमार को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है. यह नोटिस उस याचिका के बाद भेजा गया है जिसमें याचिकाकर्ता ने 1.97 करोड़ की जमीन NHAI को देने के बदले मुआवाजे की मांग की थी. यह जमीन नेशनल हाईवे को चौड़ा करने के लिए 2010 में दी गई थी.

न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, दायर याचिका के मुताबिक, उस समय वसुंधरा राजे अपराध की श्रेणी में आने वाले कमीशन की पब्लिक सर्वेंट नहीं थीं, वह प्रतिपक्ष की नेता थीं. याचिका में आरोप लगाया गया है कि राजे और उनके बेटे ने इस जमीन पर गलत तरीके से अपना हक जताकर इसे NHAI को 1.97 करोड़ रुपए में बेच दिया.

ANI

@ANI
As per the petition, Vasundhara Raje was not a public servant at the time of the alleged commission of the offence in 2010 and was LoP. The petition alleged Raje and her son claimed ownership of a 567 square metre of land near Dholpur Palace and sold it to NHAI for Rs 1.97 crore

ANI

@ANI
Supreme Court issues notice to Rajasthan Chief Minister Vasundhara Raje and her son Dushyant Singh on a plea seeking registration of FIR against them for allegedly getting compensation of Rs 1.97 crore by selling government land to NHAI for widening a national highway in 2010

1:19 PM – Nov 2, 2018

राजस्थान की सभी 200 विधानसभा सीटों पर एक चरण में 7 दिसंबर को मतदान होना है. जबकि नतीजे 11 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे. ऐसे में राजे को सुप्रीम कोर्ट के नोटिस से कांग्रेस को एक मुद्दा मिल गया है. आने वाले दिनों में कांग्रेस इसे भुनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी. कांग्रेस पहले ही वसुंधरा राजे पर आरोप लगा रही है.