बदले की भावना से काम करती है बीजेपी, नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करना उसका चरित्र: अखिलेश

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी सरकार अपने अब तक के कार्यकाल में एक भी नौकरी नहीं दी है और जो मांगने आया, उस पर लाठी बरसाई गई है। बीजेपी के काम के तरीके से नौजवान बेहद गुस्से में हैं।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीटीसी प्रशिुओं के एक प्रतिनिधिमंडल को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी राग और द्वेष से काम करती है, नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करना उसका चरित्र है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को बीटीसी प्रशिक्षुओं के साथ हुई कथित लाठीचार्ज की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा, “समाजवादी पार्टी हमेशा छात्रों व नौजवानों के हितों की लड़ाई लड़ती रही है और आगे भी लड़ेगी।”उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार अपने अब तक के कार्यकाल में एक भी नौकरी नहीं दी है और जो मांगने आया, उस पर लाठी बरसाई गई है। बीजेपी के काम के तरीके से प्रदेश के नौजवान बेहद गुस्से में हैं।अखिलेश यादव ने कहा कि नौजवान पहले से ही बेरोजगारी और आर्थिक तंगी से परेशान है, बीजेपी उनके सपनों को तोड़ रही है।समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता राजेंद्र चैधरी ने बताया कि बीटीसी प्रशिुओं के प्रतिनिधिमंडल ने दिए अपने ज्ञापन में मांग की कि 68,500 सहायक अध्यापकों की भर्ती के लिए 21 मई के जारी शासनादेश को बनाए रखने में सहयोग करें। इस पर पूर्व मुख्यमंत्री ने उन्हें पूरा सहयोग देने की बात कही है।

राहुल गांधी ने भी योगी सरकार पर बोला हमला

इस मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी दो भर्ती परीक्षाओं का परिणाम रद्द करने के अदालत के फैसलों का विरोध कर रहे शिक्षक अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि बच्चों के भविष्य को आकार देने का दायित्व निभाने वालों को पीटा जा रहा है.

राहुल गांधी ने घायल प्रदर्शनकारियों की तस्वीरें पोस्ट करते हुए कहा कि जिन लोगों पर बच्चों का भविष्य बनाने का दायित्व है, उन्हें पीटा जा रहा है. कांग्रेस अध्यक्ष ने हिन्दी में एक ट्वीट में कहा कि दो करोड़ नौकरियों का वायदा किया गया था, लेकिन उत्तर प्रदेश में सहायक शिक्षकों के 68,500 पदों को भरने के लिए युवाओं की मांगों पर उत्तर प्रदेश में योगी सरकार का जवाब देखिए. जिन लोगों पर बच्चों का भविष्य संवारने का दायित्व है, उनके खुद के भविष्य को नुकसान पहुंचाया जा रहा है. उन्होंने इसी ट्वीट में कहा कि कांग्रेस राज्य के सहायक शिक्षकों के साथ है. युवा जल्द इसका जवाब देंगे.

आप प्रदेश प्रवक्ता ने भी साधा निशाना

आप प्रदेश प्रवक्ता सभाजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार की गलत नीतियों की वजह से शिक्षक बनने की चाहत रखने वाले लाखों बेरोजगारों का भविष्य अंधकार में है उन्होंने यूपी में सहायक अध्यापक भर्ती मामले में कट ऑफ लिस्ट से हटाये गए अभ्यर्थियों द्वारा विधानसभा का घेराव करने पर योगी की पुलिस द्वारा किए गए बर्बर लाठीचार्ज थी निंदा करती है और यह मांग करती है लाठीचार्ज के दोषी पुलिस अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

प्रदेश प्रवक्ता सभाजीत सिंह ने कहा कि योगी सरकार डेढ़ वर्ष के शासनकाल में जितने भी प्रकार की नौकरियों के लिए आवेदन मांगे उनको सफलतापूर्वक संपन्न कराने में नाकाम रही या तो परचा आउट हुए या फिर नौकरियां भ्रष्टाचार की वजह से पूरी नहीं हो पाई युवाओं को जांच कमेटी बनाने के नाम पर सरकार गुमराह कर रही है उन्होंने कहा कि बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के लिए सरकार की मनसा ठीक नहीं है इसीलिए सभी प्रकार की नौकरियों के लिए परीक्षाएं व चयन प्रक्रिया में गड़बड़ी पैदा हो रही है जिस कारण चयन की प्रक्रिया सफल नहीं हो पा रही है ।

गौरतलब है कि बीटीसी प्रशिक्षु प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 13 अगस्त से आंदोलन कर रहे हैं। शुक्रवार को विधान भवन के सामने पुलिस ने उनके ऊपर पर लाठीचार्ज किया, जिससे कई प्रशिक्षु घायल हुए हैं। इस घटना के बाद राज्य के शिक्षक, युवा बोरोजगार गुस्से में हैं। उनका आरोप है कि राज्य की योगी सरकार युवाओं के लिए कुछ नहीं कर रही और जब युवा नौकरी मांग रहे हैं तो उनके ऊपर लाठी चार्ज किया जा रहा है।