बिहार में एक और शेल्टर होम कांड, पटना के ‘आशा किरण होम’ से 4 युवतियां लापता

पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. लापता चारों युवतियों के बारे में पता लगाने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है

बिहार की राजधानी पटना के एक शेल्टर होम से युवतियों के गायब होने से हड़कंप मच गया है. न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार पटना के आशा किरण शेल्टर होम से 4 युवतियां लापता हैं.

पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. लापता महिलाओं के बारे में पता लगाने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है.

ANI

@ANI
Bihar: Four women found missing from Patna’s Asha Kiran shelter home; Case registered, search operation by the police is underway

पटना के एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि पाटलिपुत्र कालोनी स्थित आशा किरण होम फॉर गर्ल्स नाम के शेल्टर होम से तड़के लगभग 2 बजे चार युवतियां फरार हो गईं. उन्होंने बताया कि यह सभी लड़कियां दुपट्टे बांधकर उसके सहारे सेकेंड फ्लोर से नीचे उतरीं और भाग गईं.

पुलिस केस दर्ज कर फरार लड़कियों की तलाश में जुट गई है.

ANI

@ANI
· 2h
Bihar: Four women found missing from Patna’s Asha Kiran shelter home; Case registered, search operation by the police is underway

ANI

@ANI
A case has been registered and we are going to recover the four missing women soon: Manu Maharaj, SSP Patna #Bihar pic.twitter.com/PolUjUqz1I

फरार होने वाली लड़कियों में से 3 की उम्र करीब 16 साल जबकि चौथी लगभग 12 वर्ष की है. इन लड़कियों को पिछले महीने ही यहां लाया गया था.

TISS के सोशल ऑडिट में सामने आया था मामला

बता दें कि इस साल के शुरुआत में मुंबई स्थित टाटा इंसटीट्यूट आफ सोशल साइसेंज (टीआईएसएस) संस्था ने सोशल आडिट के दौरान मुजफ्फरपुर के गर्ल्स शेल्टर होम में रहने वाली 30 से ज्यादा नाबालिग लड़कियों के साथ रेप और यौन शोषण किए जाने का पर्दाफाश किया था.
इस खुलासे के बाद राज्य से लेकर देश भर में हड़कंप मच गया था. पुलिस ने इस संबंध में शेल्टर होम के मुखिया ब्रजेश ठाकुर समेत 11 अन्य लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी. मामले के तूल पकड़ने के बाद राज्य सरकार ने इस मामले की जांच सीबीआई के हवाले कर दी थी.

इस मामले में सवालों के घेरे में आने के बाद नीतीश सरकार में मंत्री रहीं समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा को अपना इस्तीफा देना पड़ा था.