उत्तर प्रदेशः राजधानी लखनऊ में रेल मंत्री पीयूष गोयल पर हमला, गुस्साए लोगों ने फेंके गमले, तोड़े गाड़ी के शीशे

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल पर लखनऊ में एक कार्यक्रम के दौरान हमला हुआ है। मंच पर उन पर फूलों के गमले फेंक कर हमला किया गया। यही नहीं जब वे वहां से जाने लगे तो लोगों ने उनकी गाड़ी के शीशे तोड़ दिए और दूर तक गाड़ी का पीछा भी किया।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल को भारी विरोध का सामना करना पड़ा है। विरोध कर रहे लोगों ने उन पर फूलों का गमला फेंक कर हमला कर दिया और उनकी गाड़ी के शीशे तोड़ दिए। पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद गोयल को वहां से सुरक्षित निकाला। इसके बावजूद लोगों ने काफी दूर तक उनका पीछा किया। उनके जाने के बाद भी लोग कार्यक्रम स्थल पर काफी देर तक हंगामा करते रहे। खास बात ये है कि यह सब कुछ उत्तर प्रदेश पुलिस की मौजूदगी में हुआ।

बताया जा रहा है कि पीयूष गोयल लखनऊ के चारबाग में रेलवे के एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। कार्यक्रम में पहुंचे गोयल ने जैसे ही मंच से बोलना शुरू किया लोग उनकी बात सुनकर आपे से बाहर हो गए और हंगामा करने लगे। बताया जा रहा है कि गोयल ने अपने भाषण में रेलवे कर्मचारियों के यूनियन पर निशाना साधा था, जिससे रेल कर्मचारी काफी उग्र हो गए।नाराज लोगों ने उनके खिलाफ नारे लगाने शुरू कर दिए। फिर भी गोयल जब नहीं माने तो लोगों ने वहां रखे फूलों के गमले उठाकर मंच पर फेंकना शुरू कर दिया। लोगों का गुस्सा देखकर पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद गोयल को मंच से उतारकर गाड़ी में बैठाया लेकिन इसके बाद भी लोग नहीं माने और उनकी गाड़ी पर गमलों से हमला कर दिया, जिससे गाड़ी के शीशे टूट गए। इसके बाद भी नाराज लोगों ने काफी दूर तक उनकी गाड़ी का पीछा किया।

मिली जानकारी के अनुसार इस हमले में गोयल को चोट भी आई है। बताया जा रहा है कि हमला करने वाले रेल कर्मचारी ही थे और वे गोयल के भाषण से नाराज हो गए। नाराज कर्मचारियों ने उनके विरोध में जमकर मुर्दाबाद के नारे भी लगाए और उनके जाने के बाद भी काफी देर तक उत्पात मचाया।