‘गुजराती ईरानी वापस जाओ’: अमेठी में लगे स्मृति ईरानी के विरोध में पोस्टर

अमेठी में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के आने से पहले ही कई जगहों पर स्मृति ईरानी वापस जाओ के पोस्टर्स लगे हुए हैं। इन पोस्टरों में लिखा गया है कि स्मृति ईरानी उत्तर भारतीयों के साथ नहीं है तो उन्हें उत्तर भारत आने का कोई हक नहीं है।

सोमवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अमेठी के एक दिवसीय दौरे पर हैं, उनके साथ केंद्र और राज्य के मंत्री भी अमेठी पहुंच रहे हैं। उनके आने से कुछ घंटे पहले अमेठी के कई इलाकों में उनके विरोध में पोस्टर लगाए गए हैं, जिस पर लिखा हुआ है ‘गुजराती ईरानी वापस जाओ।’ अमेठी के गौरीगंज शहर, सैठा ओवरब्रिज, जवाहर नवोदय विद्यालय, शहर के कलेक्ट्रेट मोड़, सब्जीमंडी में स्मृति वापस जाओ के पोस्टर लगाए गए हैं।पोस्टरों में स्मृति ईरानी पर गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हो रहे हमलों का विरोध करने की बात लिखी गई है। इन पोस्टरों में लिखा गया है कि स्मृति ईरानी उत्तर भारतीयों के साथ नहीं है तो उन्हें उत्तर भारत आने का कोई हक नहीं है। इन पोस्टरों को समाजवादी छात्रसभा के प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य जयसिंह प्रताप यादव ने लगवाया है।सोमवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के साथ केंद्र और राज्य के मंत्री अमेठी के एक दिवसीय दौरे पर हैं। स्मृति ईरानी यहां गौरीगंज के जवाहर नवोदय विद्यालय में दिव्यांगों को कृत्रिम उपकरण का वितरण करेंगे।

बता दें कि गुजरात के साबरकांठा जिले के हिम्मतनगर में बीते 28 सितंबर को 14 महीने की बच्ची के साथ रेप की घटना सामने आई थी। पुलिस ने फौरन कार्रवाई करते हुए रेप के आरोपी बिहार के रहने वाले रविंद्र साहू नाम को गिरफ्तार कर लिया था। इस घटना के बाद स्थानीय लोगों में उत्तर भारतीयों के प्रति गुस्सा भड़क उठा था। उन्होंने विशेषकर बिहार और यूपी से वहां काम करने गए लोगों को अपना निशाना बनाना शुरू कर दिया था। हिंसा के बाद दहशत में आए उत्तर भारतीय लोग अपने-अपने राज्यों के लिए पलायन करना शुरू कर दिया था

साभार: नवजीवन