बुलंदशहर हिंसा: जीतू फौजी ने STF के सामने उगले राज, 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया 

जीतू ने पूछताछ में यह स्‍वीकार किया है कि वह घटना के समय भीड़ के साथ मौजूद था, पुलिस जीतू के मोबाइल को फॉरेंसिक जांच के लिए भेज रही है

बुलंदशहर हिंसा मामले में मुख्य आरोपी जितेंद्र मलिक को यूपी पुलिस आज घटनास्थल लेकर पहुंची है। बुलंदशहर पुलिस ने जितेंद्र को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने जीतू को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इस दौरान जीतू ने कहा कि मैंने इंस्पेक्टर को गोली नहीं मारी, मैं निर्दोष हूं’। आरोपी सोपोर में 22 राष्ट्रीय रायफल्स में तैनात था। जहां से सेना ने रविवार रात को 12.30 बजे उसे यूपी एसटीएफ को सौंपा।

यूपी के बुलंदशहर में कथित गोहत्‍या के बाद भड़की हिंसा के मामले में आरोपी सेना के जवान जितेंद्र मलिक उर्फ जीतू फौजी को शनिवार आधीरात को गिरफ्तार कर लिया गया है. एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार जीतू फौजी ने यूपी एसटीएफ के सामने कई राज खोले हैं. उसने घटनावाले दिन की पूरी बात एसटीएफ को बताई है. एसटीएफ के मुताबिक जीतू ने पूछताछ में यह स्‍वीकार किया है कि वह घटना के समय भीड़ के साथ मौजूद था. पुलिस जीतू के मोबाइल को फॉरेंसिक जांच के लिए भेज रही है. हालांकि अभी यह तय नहीं है कि जीतू ने ही इंस्पेक्टर सुबोध कुमार और सुमित को गोली मारी थी और पुलिस के पास अभी तक इसका कोई सीधा सबूत भी नहीं है. फिलहाल उसे आगे की पूछताछ के लिए स्याना थाने लाया गया है.

ANI UP

@ANINewsUP
Bulandshahr: Army jawan Jitendra Malik has been brought to Syana police station for further questioning. He has been named in the FIR filed in #Bulandshahr case.

ANI UP

@ANINewsUP
SSP STF Abhishek Singh in Meerut, on #Bulandshahr case: We’ve arrested Army jawan Jitendra Malik(pic 2), he was handed over by Army at 12:50 am today.Preliminary interrogation has been done.He is being sent to Bulandshahr(pic 3), will be produced before court for judicial custody