68500 शिक्षक भर्ती: परीक्षा की सीबीआई जांच पर कोर्ट ने 21 दिसम्बर तक लगाई रोक

सहायक शिक्षक भर्ती परीक्षा 2018 की सीबीआई जांच के इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ के एकल जज के निर्णय पर हाईकोर्ट की दो जजों की पीठ ने 21 दिसम्बर की सुनवाई तक रोक लगा दी है। इसके तहत सीबीआई जांच
पर भी रोक लगा दी गई है।

उत्तर प्रदेश में 68,500 सहायक शिक्षकों की 2018 में हुई भर्ती की सीबीआई जांच के 1 नवंबर को आए इस आदेश के खिलाफ प्रदेश सरकार ने विशेष अपील दायर की थी। इसकी सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस गोविंद माथुर और जस्टिस मनीष माथुर ने एकल जज के आदेश पर रोक लगा दी है।

मंगलवार को चली करीब दो घंटे की सुनवाई के बाद हाईकोर्ट ने यह आदेश दिया हैं। वहीं, राज्य सरकार की ओर से महाधिवक्ता राघवेंद्र पेश हुए। 21 दिसंबर को याचिका पर हाईकोर्ट अपना निर्णय सुना सकती है। इससे पहले हाईकोर्ट ने उन सभी 41 याचियों को पक्षकार बनाने के लिए कहा है, जिनकी याचिकाओं पर पुराना निर्णय दिया गया था। कोर्ट ने सरकार की इस अपील पर फैसला होने तक सीबीआई जांच पर रोक लगा दी है।
गौरतलब है कि राज्य सरकार ने एक हफ्ते से सीबीआई को भर्ती परीक्षा से संबंधित प्रपत्र नहीं सौंपे हैं। जिसके चलते पहले से ही सीबीआई की जांच प्रगति रुकी हुई है। एकल पीठ के निर्णय के अनुसार सीबीआई जांच कर रही थी।

यह थी सरकार की प्रार्थना
सरकार ने विशेष अपील में हाईकोर्ट की एकल पीठ का सीबीआई जांच का आदेश निरस्त करने की प्रार्थना की थी। साथ ही अन्य आदेशों पर भी रोक के लिए निवेदन किया था।