बैकफुट पर आई मोदी सरकार, जीएसटी काउंसिल की बैठक में टीवी, कंप्यूटर समेत कई चीजों को करना पड़ा सस्ता

जीएसटी काउंसिल की आज 31वीं बैठक दिल्ली के विज्ञान भवन में हुई। केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में कई वस्तुओं पर टैक्स कम करने का फैसला लिया गया। बैठक में 33 वस्तुओं पर जीएसटी दर में कमी की गई है।

जीएसटी की उच्च दरों को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मोदी सरकार पर लगातार हमला बोलते रहे हैं और दरों को कम करने की मांग करते रहे हैं। लेकिन मोदी सरकार ने ध्यान देना तो दूर उल्टा जीएसटी दर कम करने को मूर्खतापूर्ण विचार बताती रही थी। लेकिन तीन राज्यों के चुनाव में हार के बाद पीएम मोदी को बैकफुट पर आना पड़ा है। विधानसभा चुनावों में हश्र को देखते हुए मोदी सरकार ने अगामी लोकसभा चुनाव में लोगों की नाराजगी से बचने के लिए शनिवार को कई वस्तुओं के जीएसटी दर में कमी करने का ऐलान कर दिया। जीएसटी काउंसिल की शनिवार को हुई बैठक में 33 वस्तुओं पर जीएसटी दर घटाने का फैसला लिया गया।

जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद वित्तमंत्री अरुण जेटली ने बताया कि कुल 33 चीजों पर जीएसटी दर कम की गई है। इन्हें 18 फीसदी के घटाकर 12 फीसदी से 5 फीसदी तक लाया गया है। जबकि 7 वस्तुओं पर जीएसटी दर को 28 फीसदी के घटाकर 18 फीसदी किया गया है।

जीएसटी काउंसिल में दर घटाने पर बनी सहमति:
28 फीसदी वाले 7 सामानों पर जीएसटी 18 फीसदी किया गया
टायर, एसी और टीवी पर 18 प्रतिशत जीएसटी
100 रुपये तक की सिनेमा टिकट पर 12 फीसदी जीएसटी
हज जाने वाली फ्लाइट पर जीएसटी घटा
कृषि अपकरण सस्ते हुए
लिथियम बैटरी चार्जर को 28 फीसदी से 18 फीसदी कर दिया गया है
व्हीलचेयर और हैंडीकैप्ड मोबिलिटी व्हीकल को 5 फीसदी जीएसटी स्लैब में लाया गया
टायर, एसी और टीवी पर 18 प्रतिशत जीएसटी 100 रुपये तक की सिनेमा टिकट पर 12 फीसदी जीएसटी हज जाने वाली फ्लाइट पर जीएसटी घटा कृषि अपकरण सस्ते हुए लिथियम बैटरी चार्जर को 28 फीसदी से 18 फीसदी कर दिया गया है व्हीलचेयर और हैंडीकैप्ड मोबिलिटी व्हीकल को 5 फीसदी जीएसटी स्लैब में लाया गया।

जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि 28 फीसदी टैक्स स्लैब में अब केवल 28 वस्तुएं हैं। ये सभी लग्जरी आइटम हैं।

बता दें कि 1 जुलाई 2017 से जीएसटी लागू हुआ तो 28 फीसदी टैक्स स्लैब में 226 वस्तुएं थीं। डेढ़ साल में इनमें से 199 वस्तुओं पर टैक्स कम किया गया है। अभी 28 फीसदी जीएसटी स्लैब में 28 वस्तुएं हैं।

साभार: नवजीवन इंडिया