बिहार के बाद अब यूपी में भी भाजपा को पड़ सकता है झुकना! अपना दल ने ठोका 5 सीटों पर दावा

अपना दल का आरोप है कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में उसे उचित स्थान नहीं दिया जा रहा है। पार्टी का कहना है कि उनकी तुलना में एक छोटी पार्टी ‘सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी’ को उत्तर प्रदेश में कैबिनेट मंत्री का पद दिया गया है।

जनसत्ता ऑनलाइन की खबर के अनुसार बिहार के बाद अब यूपी में भी भाजपा को अपने सहयोगियों की नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है।

लोकसभा चुनाव की तारीखें जैसे ही नजदीक आ रही हैं, एनडीए में विद्रोह के स्वर बुलंद होते जा रहे हैं। पहले सीट बंटवारे के चलते रालोसपा ने एनडीए से किनारा किया। बाद में लोक जनशक्ति पार्टी ने भी बिहार में सीट बंटवारे को लेकर भाजपा पर दबाव बनाना शुरु कर दिया था। जिस पर भाजपा ने सीट बंटवारे में लोजपा को 6 सीटें और लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान को राज्यसभा भेजने की पेशकश कर लोजपा को छिटकने से बचा लिया। हालांकि राजनैतिक विशेषज्ञों का मानना है कि इस समझौते से भाजपा नुकसान में रही और पिछले लोकसभा चुनाव में सिर्फ 2 सीटों पर जीत हासिल करने वाली जदयू को उसे 17 सीटें देने पर मजबूर होना पड़ा। समझौते के तहत बिहार में भाजपा को 17, जदयू को 17 और लोजपा को 6 सीटें मिलीं, जिसे गठबंधन की राजनीति के चलते भाजपा की हार माना गया। अब बिहार के बाद उत्तर प्रदेश में भी भाजपा का एक सहयोगी दल उसे ‘हराने’ पर आमादा है। दरअसल उत्तर प्रदेश में भाजपा की सहयोगी पार्टी ‘अपना दल’ ने आगामी लोकसभा चुनावों में कम से कम 5 सीटों पर अपना दावा ठोक दिया है। इकॉनोमिक टाइम्स की खबर के अनुसार, अपना दल ने भाजपा से आगामी चुनावों में कम से कम 5 लोकसभा सीटें और अपने अध्यक्ष आशीष पटेल के लिए उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर का पद देने की मांग की है।

बता दें कि अपना दल चीफ आशीष पटेल की पत्नी अनुप्रिया पटेल केन्द्र की मोदी सरकार में केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री का पद संभाल रही हैं। लेकिन अपना दल का आरोप है कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में उसे उचित स्थान नहीं दिया जा रहा है। पार्टी का कहना है कि उनकी तुलना में एक छोटी पार्टी ‘सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी’ को उत्तर प्रदेश में कैबिनेट मंत्री का पद दिया गया है। उल्लेखनीय है कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के यूपी विधानसभा में 4 विधायक हैं और पार्टी के मुखिया ओमप्रकाश राजभर को योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। वहीं अपना दल के यूपी में 9 विधायक हैं और उनके पास कैबिनेट मंत्री का एक भी पद नहीं है। इसके साथ ही अपना दल ने लोकसभा में 5 लोकसभा सीटें देने की भी मांग की है।

अपना दल चीफ आशीष पटेल ने हाल ही में भाजपा पर उन्हें उचित सम्मान नहीं देने का आरोप लगाया था। अपना दल इस बात से भी नाराज है कि योगी सरकार ने सत्ता में आने के बाद से अभी तक एक भी बार कैबिनेट में बदलाव या उसका विस्तार नहीं किया है। उत्तर प्रदेश में सिर्फ अपना दल के नेता जय कुमार सिंह को राज्यमंत्री का पद दिया हुआ है, वहीं अपना दल चीफ आशीष पटेल को एमएलसी बनाया गया था। अब पार्टी ने आशीष पटेल के लिए यूपी कैबिनेट में मंत्री पद की मांग कर दी है। उल्लेखनीय है कि साल 2014 को लोकसभा चुनाव में अपना दल को 2 सीटें दी गईं थी, जिन पर पार्टी ने दोनों सीट पर जीत हासिल की थी। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अपना दल को 11 सीटें दी गईं थी, जिनमें से पार्टी ने 9 सीटों पर जीत हासिल कर शानदार प्रदर्शन किया था।