उत्तर प्रदेश: योगी सरकार अब गौरक्षा के नाम पर वसूलेगी ‘गो कल्याण टैक्स’, आपकी जेब पर पड़ेगा भार

गायों को सुरक्षा और सुविधा मुहैया कराने विफल रही यूपी की योगी सरकार 2019 चुनाव से पहले नया दाव चला है। दरअसल योगी सरकार ने सड़क पर घूमती गायों के लिए गोशाला के निर्माण और उनके रखरखाव को लेकर 0.5 प्रतिशत ‘गो-कल्याण सेस’ लागू किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार योगी सरकार गाय सुरक्षा से जुड़े मामले को लेकर हमेशा सुर्खियों में रही हैं। फिर चाहे वो गौ रक्षा के नाम पर हिंसा हो या फिर सड़कों पर घूमते आवारा पशु हो। गायों को सुरक्षा और सुविधा मुहैया कराने विफल रही यूपी की योगी सरकार 2019 चुनाव से पहले नया दाव चला है। लेकिन इस चाल से अब जनता के जेबों पर बोझ बढ़ने वाला है। दरअसल योगी सरकार ने सड़क पर घूमती गायों के लिए गोशाला के निर्माण और उनके रखरखाव को लेकर 0.5 प्रतिशत ‘गो-कल्याण सेस’ लागू किया है। यह कर शराब, टोल प्लाजा और सरकारी इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनियों से वसूल जाएगा। इस कर के द्वारा जो पैसा जमा होगा उसकी मदद से प्रदेशभर में गायो के लिए शेल्टर होम बनाया जाएगा, जिससे कि आवारा गायों को यहां रखा जा सके।

बता दें कि अवैध बूचड़खानों पर रोक लगाए जाने के बाद से यूपी आवारा मवेशियों की समस्या से जूझ रहा है। खबरों के मुताबिक, ग्रामीण उत्तर प्रदेश में मशेवियों के खेतों में घुसने से फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है। साथ ही कई सड़क हादसे भी हुए हैं। नए सेसके बाद प्रदेश में शराब के दाम बढ़ने की संभावना है। हालांकि अभी इस बात पर आखिरी मुहर लगना मुश्किल है कि किन-किन उत्पादों पर यह शुल्क बटोरा जाएगा। साभार:नवजीवन