केरल: पुलिस के छापे में RSS कार्यालय से कई हथियार जब्त किये

केरल पुलिस ने बुधवार को नेदुमंगद में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के जिला ऑफिस में छापा मारा और हथियार भी जब्त किए. इसकी पुष्टि पुलिस ने की है.

यह छापेमारी आरएसएस के प्रचारक नूरानंद प्रवीण की तलाश में की गई. प्रवीण को पुलिस नेदुमंगद में बम फेंकने के मामले में तलाश रही है.

जनसत्ता के मुताबिक, पुलिस ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि ये छापेमारी पिछले सप्ताह नेदुमंगद के स्थानीय पुलिस स्टेशन पर कथित तौर पर आरएसएस कार्यकर्ताओं के हमले के बाद की गई. ये लोग सबरीमला एक्शन काउंसिल के बैनर तले सबरीमला मंदिर में दो महिलाओं के प्रवेश के विरोध में राज्य में प्रदर्शन कर रहे थे.

साथ ही ये भी बताया कि सीसीटीवी फुटेज से पता चला है कि आरएसएस का जिला प्रचारक प्रवीण पुलिस स्टेशन पर बम से हमला कर रहा था. वह इस घटना को अंजाम देकर वहां से भाग गया.

करीब एक मिनट की सीसीटीवी फुटेज में एक शख्स हाथ में बम लेकर पुलिस स्टेशन पर बम फेंकते हुए नजर आ रहा है. उसके साथ कुछ और लोग भी नजर आ रहे हैं.

पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर आरएसएस के दफ़्तर पर छापेमारी की. पुलिस को जानकारी मिली थी कि स्टेशन पर हमला करने के बाद प्रवीण आरएसएस के दफ़्तर में छुपा हुआ है. छापेमारी के दौरान पुलिस ने चाकू और खंजर भी बरामद किया है.

अमर उजाला में छपी खबर के मुताबिक पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर चार आरएसएस कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया है. इसमें नूरानंद प्रवीण भी शामिल है. आरोप है कि उन्होंने तीन जनवरी को विरोध प्रदर्शनों के दौरान नेदुमंगद पुलिस स्टेशन में बम फेंका था.