मध्य प्रदेश: सवा लाख पैरा टीचर आज बनेंगे पूर्ण शिक्षक

1994 में पंचायती राज व्यवस्था के तहत ये पद डाइंग कैडर में डाले गए थे। इनकी जगह शिक्षा कर्मी एक, दो और तीन बनाए गए थे। 2001 में इन्हें संविदा शाला शिक्षक और 2007 में अध्यापक का नाम दिया गया था।

कमलनाथ सरकार अपने वचन पत्र के साथसाथ उन वादों को भी निभा रही हैं जो पिछली सरकार ने किए थे। अध्यापकों के लिए शिक्षा विभाग में संविलियन करने का वादा बीजेपी सरकार ने किया था और इसे अब कमलनाथ सरकार ने निभाने काम किया है। आज अध्यापक संवर्ग के स्कूल शिक्षा विभाग में नियुक्त किए जाने का आदेश डिजिटल हस्ताक्षर से जारी होंगे। स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी एक क्लिक कर आदेश जारी करेंगे। पहली बार ऐसा हो रहा है कि किसी आदेश को डिजिटल हस्ताक्षर किया जा रहा है क्योंकि एक लाख 24 हजार अध्यापकों की नियुक्ति नए कैडर में करनी है। स्कूल शिक्षा विभाग में अपने संविलियन की मांग कर रहे लगभग सवा लाख अध्यापक अब शिक्षक बन जाएंगे। आदेश एम शिक्षा मित्र एप पर अपलोड किए जाएंगे। बता दें कि पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने लंबे समय से चली आ रही अध्यापक संवर्ग की मांग को पूरा करने का ऐलान किया था। कवायद शुरु हो चुकी थी लेकिन आचार संहिता लागू होने के चलते संविलियन की प्रक्रिया अटक गई थी जिसे अब कमलनाथ सरकार ने पूरा किया है।

मध्यप्रदेश राज्य स्कूल शिक्षा सेवा के अंतर्गत अध्यापक संवर्ग की स्कूल शिक्षा विभाग में नियुक्त किए जाने का आदेश डिजिटल हस्ताक्षर से जारी होगा। सोमवार को स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी एक क्लिक कर आदेश जारी करेंगे। पहली बार ऐसा हो रहा है कि किसी आदेश को डिजिटल हस्ताक्षर किया जा रहा है, क्योंकि एक लाख 24 हजार अध्यापकों की नियुक्ति नए कैडर में करनी है। स्कूल शिक्षा विभाग में अपने संविलियन की मांग कर रहे लगभग सवा लाख अध्यापक सोमवार को शिक्षक बन जाएंगे। लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा अब तक लगभग 1.24 लाख अध्यापकों के डिजिटल हस्ताक्षर के लिए नियुक्ति आदेश तैयार कर लिए गए हैं। इन्हें सोमवार को स्कूल शिक्षा मंत्री द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान एक क्लिक कर आदेश जारी किया जाएगा। यह आदेश एम शिक्षा मित्र एप पर अपलोड किया जाएगा। इसके माध्यम से प्रत्येक अध्यापक आदेश को देख सकेंगे।

मप्र राज्य स्कूल शिक्षा सेवा (शैक्षणिक संवर्ग) सेवा शर्ते एवं भर्ती नियम-2018 के अंतर्गत अध्यापक संवर्ग की स्कूल शिक्षा विभाग में नियुक्त किए जाने संबंधी कार्यवाही एजुकेशन पोर्टल के माध्यम से ई-सेवा पुस्तिका अपडेट कर हुए नवीन संवर्ग में की जा रही है। विभाग द्वारा शिक्षा संवर्ग में नियुक्ति के लिए सम्पूर्ण कार्यवाही पारदर्शी रूप से ऑनलाइन करते हुए आदेश जनरेट किए गए हैं। इतनी बड़ी संख्या में एक साथ 1.24 लाख डिजिटल हस्ताक्षर युक्त नियुक्ति आदेश जारी करने में अधिकारियों ने सफलता पाई है। शीघ्र ही शेष अध्यापकों के दस्तावेज सत्यापित कर आदेश जनरेट कर लिए जाएंगे।