खुलासा: देश के 9 अमीरों की दौलत है भारत के 65 करोड़ लोगों की संपत्ति के बराबर

भारत में टॉप 9 अमीरों की कुल संपत्ति देश की 50 फीसदी गरीब आबादी की कुल संपत्ति के बराबर है. ऑक्सफैम की रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी गई है. इस रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले साल देश के टॉप 1 फीसदी अमीरों की संपत्ति में 39 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है, जबकि देश की 50 फीसदी आबादी की संपत्ति में सिर्फ 3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. भारत में बिलेनियर्स की संपत्ति में पिछले साल हर दिन 2200 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई है.

ऑक्सफैम के मुताबिक

13.6 करोड़ भारतीय साल 2004 से कर्जे में हैं. भारत में आबादी के 10 फीसदी हिस्से के पास देश में कुल संपत्ति का 77.4 फीसदी हिस्सा है. इसके अलावा भारत में 1 फीसदी आबादी के पास देश में कुल संपत्ति का 51.53 हिस्सा है. जबकि 60 फीसदी आबादी के पास नेशनल वेल्थ का सिर्फ 4.8 फीसदी हिस्सा ही है.

भारत में पिछले साल 18 नए बिलेनियर बने

ऑक्सफैम की रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत में पिछले साल 18 नए बिलेनियर बने हैं, इससे भारत में बिलेनियर्स की कुल संख्या 119 हो गई है. इन बिलेनियर्स की कुल संपत्ति ने 28 लाख करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर लिया है और ऐसा पहली बार हुआ है.

ऑक्सफैम ने बताया कि अगर भारत सरकार टॉप 1 फीसदी अमीरों से उनकी संपत्ति पर 0.5 फीसदी ज्यादा टैक्स लेती है तो इससे उसके पास इतना पैसा हो जाएगा कि वह स्वास्थ्य के क्षेत्र में अपने खर्च को 50 फीसदी बढ़ा सकती है.

‘पब्लिक सर्विस का खस्ता हाल, गरीब जूझ रहे’

ऑक्सफैम ने कहा है कि जहां बिलेनियर्स की संपत्ति बढ़ रही है, वहीं पब्लिक सर्विस कम फंडिंग या निजी कंपनियों की आउटसोर्सिंग से जूझ रही हैं, जिसका खामियाजा गरीब लोग भुगत रहे हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, अमीर परिवारों के बच्चों की तुलना में गरीब परिवारों के बच्चों के उनके पहले जन्मदिन से पहले ही मौत की आशंका 3 गुना ज्यादा है.

साभार: द क्विंट की रिपोर्ट