ईवीएम की जांच निजी कंपनियों से क्यों कराई जाती है? सुप्रीम कोर्ट ने मांगा जवाब

सुप्रीम कोर्ट सोमवार को भारतीय चुनाव आयोग से ईवीएम मशीनों की जांच में निजी एजेंसी को शामिल करने के संबंध मे 4 सप्ताह के अंदर जवाब मांगा है।

आशीष गोयल की ओर से दाखिल याचिका में आरोप लगाया गया है कि चुनाव से पूर्व होने वाली ईवीएम की जांच प्राइवेट कंपनियों से कराई जाती है। साथ ही उनका निर्माण कार्य भी प्राइवेट कंपनियां करती है, जिसकी वजह से चुनाव प्रभावित होने की आशंका है।