550 करोड़ बकाया अवमानना केस: …जब कोर्ट रूम में पसीने से लथपथ अनिल अंबानी ने पूछा- AC क्‍यों नहीं चल रहा?

2जी घोटाला मामले को लेकर 2013 में पटियाला हाउस कोर्ट में पेशी के बाद किसी भी कोर्ट में यह अंबानी की पहली हाजिरी थी।

एरिक्सन कंपनी के 550 करोड़ रुपए न चुकाने को लेकर बुधवार (13 फरवरी, 2019) को रिलायंस कम्युनिकेशंस के चेयरमैन अनिल अंबानी सुप्रीम कोर्ट में हाजिर हुए। सुनवाई से पहले कोर्टरूम के भीतर वह सूट-बूट और टाई में थे, लिहाजा कुछ ही देर में वह पसीने से लथपथ हो गए थे। भीषण गर्मी लगने लगी तो उन्होंने पूछा- एयर कंडिशनर (एसी) क्यों नहीं चल रहा है? अंबानी को इस एसी न चलाने की वजह बताई गई, जिसके बाद वह पसीना पोंछ कर शांत रह गए।

‘ईटी’ की रिपोर्ट के मुताबिक, अंबानी सुबह 10 बजे कोर्ट पहुंचे थे। उन्होंने नीली शर्ट, काला सूट और टाई पहन रखा था। वह मुस्कुराते हुए जानने वालों से मिलते-जुलते कोर्टरूम में पहुंचे और पीछे की पंक्ति में रिलायंस टेलीकॉम के अध्यक्ष सतीश सेठ संग बैठ गए।

चंद देर बाद उन्हें कोर्टरूम में गर्मी लगने लगी, लिहाजा उन्होंने पूछा- एसी बंद है क्या? उनके वकील ने इस पर जवाब दिया, “कोर्ट का नियम है कि एसी सिर्फ मार्च में चलाया जाएगा।” अंबानी यह सुनने के बाद माथे का पसीना पोंछने लगे।

अंबानी की निगाह उस दौरान कोर्ट रूम में आने-जाने वालों पर टिकी थी, क्योंकि तब तक जज नहीं आए थे। जैसे ही जस्टिस आरएफ नरीमन और विनीत सरन वहां पहुंचे, ऑरकॉम के चेयरमैन उनके सम्मान में खड़े हुए। अंबानी तब थोड़े घबराए हुए लग रहे थे।

बता दें कि 2जी घोटाला मामले को लेकर 2013 में पटियाला हाउस कोर्ट में पेशी के बाद किसी भी कोर्ट में यह अंबानी की पहली हाजिरी थी। इससे पहले, वह 2009 में रिलायंस इंडस्ट्रीज (भाई मुकेश अंबानी की कंपनी) के खिलाफ कृष्णा-गोदावरी भसिन गैस विवाद के सिलसिले में सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई में शामिल हुए थे।