शर्मनाक: कुंभ के शहर में मेडिकल छात्रा को बस से अगवा कर गैंगरेप, सिगरेट से भी दागा

पीड़ित छात्रा को कुंभ मेला क्षेत्र से सटे झूंसी इलाके से उस वक्त अगवा किया गया, जब वह प्रयागराज से वाराणसी जा रही थी. पुलिस अफसरों का कहना है कि इस मामले में आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. बाकी बचे आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कई टीमें दबिश दे रही हैं.

एबीपी न्यूज के अनुसार यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के शहर प्रयागराज में मेडिकल की छात्रा को चलती बस से अगवा करने के बाद उसके साथ गैंगरेप किये जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. आरोप है गैंगरेप के बाद विरोध करने पर छात्रा को सिगरेट से जलाया भी गया है. बेहोशी की हालत में सुनसान जगह पर मिली छात्रा का इलाज शहर के ही एक सरकारी अस्पताल में चल रहा है. पुलिस ने इस मामले में नौ आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर अपनी तफ्तीश शुरू कर दी है.

तीन नामजद आरोपियों में से एक को गिरफ्तार कर लिया गया है. पीड़ित छात्रा को कुंभ मेला क्षेत्र से सटे झूंसी इलाके से उस वक्त अगवा किया गया, जब वह प्रयागराज से वाराणसी जा रही थी. पुलिस अफसरों का कहना है कि इस मामले में आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. बाकी बचे आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कई टीमें दबिश दे रही हैं. इस सनसनीखेज वारदात ने योगी राज में यूपी की क़ानून व्यवस्था पर फिर से सवालिया निशान लगा दिए हैं.

यह वारदात कुंभ मेला क्षेत्र से सटे हुए झूंसी इलाके में शनिवार की है. बीयूएमएस की पढ़ाई कर रही एक छात्रा शनिवार को किसी काम से वाराणसी के लिए निकली. वह बस से वाराणसी जा रही थी, तभी झूंसी इलाके में उसके तीन परिचितों व छह सात अन्य लोगों ने उसे जबरन बस से उतार लिया. बस से उतारकर उसे एक मकान में ले जाया गया. गहने – मोबाइल फोन व नगद रूपये छीनने के बाद सभी ने उसके साथ मनमानी की. आरोपियों ने इसके बाद परिवार को फोन कर तीन लाख रूपये की फिरौती भी मांगी.

आरोपी छात्रा को नशीली दवा पिलाकर कहीं ले जा रहे थे, तभी उसकी हालत ज़्यादा बिगड़ गई. हालत बिगड़ने और बेहोश होने के बाद आरोपी उसे झूंसी इलाके में ही सुनसान जगह पर छोड़कर भाग निकले. आरोप है कि गैंगरेप का विरोध किये जाने पर छात्रा को सिगरेट से जलाया भी गया. परिवार वालों की शिकायत पर प्रयागराज पुलिस ने तीन नामजद समेत दस आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है. एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया गया ह.। पीड़ित छात्रा के परिवार वालों ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किये जाने की मांग की है.