बिहार: रैली के चक्कर में बिहार के शहीद को भूल गए पीएम, श्रद्धांजलि देने नहीं पहुंचा कोई एनडीए नेता

जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंकियों और सीआरपीएफ के बीच मुठभेड़ में शहीद हुए इंस्पेक्टर पिंटू सिंह का पार्थिव शरीर आज सुबह 8 बजे पटना एयरपोर्ट पहुंचा। लेकिन बिहार सरकार का कोई भी मंत्री शहीद इंस्पेक्टर पिंटू को श्रद्धांजलि देने नहीं आया।

नवजीवन के मुताबिक पुलवामा हमले के बाद से ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीअपनी चुनावी रैलियों में देश के शहीद जवानों को लेकर बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं, लेकिन आज बिहार में रैली के दौरान बिहार के ही एक शहीद जवान की मोदी और उनके सहयोगी दलों के लोगों ने अनदेखी कर दी। बिहार में सत्ताधारी पार्टी का कोई भी नेता हंदवाड़ा में शहीद हुए इंस्पेक्टर पिंटू सिंह को श्रधांजली देने नहीं पहुंचा।

जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंकियों और सीआरपीएफ के बीच मुठभेड़ में शहीद हुए इंस्पेक्टर पिंटू सिंह का पार्थिव शरीर आज सुबह 8 बजे पटना एयरपोर्ट पहुंचा। लेकिन दुःख की बात यह है कि एयरपोर्ट पर उनके शरीर को लेने के लिए उनके घरवालों के अलावा सीआरपीएफ के कुछ लोग ही शामिल थे। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी आज बिहार में अपनी चुनावी रैली कर रहे हैं। बिहार सरकार का कोई भी मंत्री इंस्पेक्टर पिंटू को श्रधांजलि देने नहीं आया।

एयरपोर्ट पर सीआरपीएफ के जवानों के साथ एसएसपी गरिमा सिंह ने पिंटू को श्रधांजलि अर्पित की जिसके बाद पिंटू के शव को उनके गांव बेगू सराए के लिए रवाना कर दिया गया। श्रधांजलि देने के लिए एयरपोर्ट पर विपक्ष के नेता और कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा भी मौजूद थे।

बता दें कि सीआरपीएफ के इंस्पेक्टर पिंटू सिंह शुक्रवार शाम को हंदवाड़ा में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान शहीद हो गए थे। मूल रूप से बेगूसराय बखरी के बगरस ध्यान चक्की गांव के रहने वाले पिंटू सिंह को श्रधांजलि देने के लिए बेगूसराय के डीएम एवं एसपी भी मौजूद रहे। पिंटू का पार्थिव शरीर गांव पहुंचते ही अपने वीर सपूत को श्रधांजलि देने के लिए लोग इकट्ठे होने लगे हैं। शहीद इंस्पेक्टर पिंटू का अंतिम संस्कार आज ही किया जाएगा।