कर्ज में डूबे अनिल अंबानी, पर कंपनी को गुजरात में मिला 648 करोड़ का ठेका

रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर ने 9 योग्य बोलीदाताओं के बीच उच्चतम तकनीकी स्कोर 92.2 फीसदी किया। लेटर ऑफ अवार्ड जारी होने के तीस महीने के भीतर को कंपनी को अपना प्रोजेक्ट पूरा करना होगा।

जनसत्ता ऑनलाइन के अनुसार कर्ज में डूबे कारोबारी अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर (आर इंफ्रा) को भारतीय हवाईअड्डा प्राधिकरण (एएआई) से 648 करोड़ रुपए का आर्डर मिला है। कंपनी ने मंगलवार (5 मार्च, 2019) को कहा कि यह ठेका गुजरात में राजकोट जिले के हिरासर में नया एयरपोर्ट बनाने के लिए मिला है। नए एयरपोर्ट का निर्माण अहमदाबाद और राजकोट को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 8बी के पास किया जा रहा है। यह मौजूदा राजकोट हवाईअड्डे से करीब 36 किलोमीटर दूर है। कंपनी ने लार्सन एंड टू्ब्रो, दिलीप बिल्डकॉन तथा गायत्री प्रोजेक्ट्स समेत नौ बोलीदाताओं में सबसे कम बोली लगाकर यह आर्डर हासिल किया। आर इंफ्रा ने एक बयान में कहा, ‘रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लि. ई एंड सी (इंजीनियरिंग एंड कंस्ट्रक्शन) को गुजरात के राजकोट जिले के हिरासर में नया एयरोपोर्ट बनाने के लिए एएआई से आर्डर आवंटन पत्र मिला है। यह आर्डर 648 करोड़ रुपए का है।’

कंपनी ने अपने बयान में आगे कहा कि अनुबंध में रनवे निर्माण, टर्निंग पैड, टैक्सी लाइन, सड़कें, पानी निकासी, फायर स्टेशन, फायर पिट, कूलिंग पिट, सप्लाई, एयरफील्ड ग्राउंड लाइटिंग सिस्टम का परीक्षण और कमीशन के अलावा नेविगेशन और पक्षी के खतरे को कम करने के लिए उपाय आदि करने का काम शामिल है। कंपनी के बयान के मुताबिक, ‘रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर ने 9 योग्य बोलीदाताओं के बीच उच्चतम तकनीकी स्कोर 92.2 फीसदी किया। लेटर ऑफ अवार्ड जारी होने के तीस महीने के भीतर को कंपनी को अपना प्रोजेक्ट पूरा करना होगा।’ माना जा रहा है कि प्रस्तावित एयरोपोर्ट समय के साथ अहमदाबाद की जरुरतों का पूरा करेगा।