पुलवामा के शहीदों पर राजनीति करने वाले मोदी बताएं, आतंकी मसूद अजहर को किसकी सरकार ने छोड़ा: राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पीएम मोदी यह बताएं कि जैश के सरगना मसूद अजहर को अफगानिस्तान में ले जाकर किसने ने छोड़ा। राहुल गांधी ने कहा कि मौजूदा राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के पोस्टर आज भी कंधार में मसूद अजहर के साथ लगे हुए हैं।

नवजीवन के मुताबिक कनार्टक के हावेरी में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी, उनके मंत्री और बीजेपी नेता आतंकवाद पर बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी शहीदों पर राजनीति कर रही है। राहुल ने कहा कि कुछ दिन पहले सीआरपीएफ के जवान शहीद हुए थे। पीएम मोदी से छोटा सा सवाल है कि सीआरपीएफ के यह जवान किसकी वजह से शहीद हुए। जैश के चीफ का नाम किया है? क्या यह सच नहीं है कि बीजेपी की सरकार ने ही जैश के सरगना मसूद अजहर को हिंदुस्तान की जेल से छोड़ा था।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पीएम मोदी यह बताएं कि जैश के सरगना मसूद अजहर को अफगानिस्तान में ले जाकर किसने छोड़ा। राहुल गांधी ने कहा कि मौजूदा राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के पोस्टर आज भी कंधार में मसूद अजहर के साथ लगे हुए हैं। राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी हम आप जैसे नहीं हैं, हम आपकी तरह आतंकवाद के सामने नहीं झुकते हैं।

राहुल गांधी ने मंच से राफेल, रोजगार और किसानों समेत कई मुद्दों को उठाया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने 2014 के लोकसभा चुनाव कई बड़े-बड़े वादे किए थे, जिसे उन्होंने पूरे नहीं किए। राहुल गांधी ने कहा, “पीएम मोदी देश को यह समझाएं कि अनिल अंबानी को राफेल डील किसने दिलवाया। वे बताएं कि 526 करोड़ रुपये के विमान को 2600 करोड़ में कैसे खरीदा गया। यह भी बताएं कि एयरफोर्स की जेब से किसने पैसा निकाला?”

राहुल गांधी ने कहा कि 2014 में मोदी जी ने देश के युवाओं को 2 करोड़ रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन उन्होंने एक भी रोजगार नहीं दिया। उन्होंने कहा कि उलटे मोदी सरकार ने छोटे रोजगार को बर्बाद कर दिया। राहुल गांधी ने कहा कि 45 साल में देश में सबसे ज्यादा बोरजगारी है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने डोकलाम मुद्दे को लेकर भी मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मोदी जी चीन के राष्ट्रपति के साथ गुजरात में झूले झूल रहे थे और चीन की आर्मी डोकलाम में घुस गई। उन्होंने कहा कि आज भी डोकलाम में चीन की सेना बैठी हुई है। राहुल गांधी ने कहा कि डोकलाम विवाद के बीच बिना एजेंडा के पीएम मोदी चीन गए और वहां पर चीन के राष्ट्रपति से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि मोदी जी पर जैसे ही दबाव बनता है, वे झुक जाते हैं।

राहुल गांधी ने मंच से कर्नाटक की जनता को उनकी सुरक्षा का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा, “हमाने आपके अधिकारों की रक्षा की। हम भूमि अधिग्रहण बिल लेकर आए। पहले आपसे बिना बताए आपकी जमीन ले ली जाती थी। हम यह कानून लेकर आए। अब बिना आपसे पूछे आपकी जमीन नहीं ली जा सकती। अगर आप अपनी जमीन देना चाहते हैं तो आपको बाजार भाव से 4 गुना ज्यादा पैसा मिलेगा। सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार जमीन के मामले होता है। जमीन अधिग्रहण बिल भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा झटका था। नरेंद्र मोदी जैसे ही चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे उन्होंने तुरंत इस बिल को खत्म करने की कोशिश। तीन बार उन्होंने इस बिल को खत्म करने की कोशिश की। हम पीछे नहीं हटे संसद में अड़ गए। दोनों सदनों में हमने आपकी लड़ाई लड़ी। आखिर में पीएम मोदी ने कहा कि हम संसद में बिल नहीं बदल सकते हैं। उन्होंने बीजेपी शासित राज्यों से कहा कि बिल को बदल दें।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “पीएम मोदी ने लोकसभा में कहा कि मनरेगा सबसे बड़ी गलती है। पीएम मनरेगा का मजाक उड़ाते हैं। आप से आपका मनरेगा का पैसा छीनते हैं। लेकिन कांग्रेस पार्टी ऐतिहासिक काम करती है। कांग्रेस पार्टी सफेद क्रांति, हरित क्रांति, कंप्यूटर और मनरेगा जैसी योजनाएं लेकर आई। इस बार हमने यह फैसला किया है, हम ऐतिहासिक काम करने जा रहे हैं। 2019 में जैसे ही केंद्र में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी हम गरीबों के लिए न्यूनतम आमदनी की गारंटी देगी। हर गरीब व्यक्ति के बैंक खाते में हम सीधे पैसा डालेंगे। अगर अडानी, अंबानी और नीरव मोदी की जेब में पीएम मोदी पैसा डाल सकते हैं तो हम गरीबों की जेब में भी पैसा डाल सकते हैं।”

राहुल गांधी ने कहा, “जब छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने किसानों के लिए योजनाएं शुरू की तो पीएम मोदी ने भी बजट में योजान का ऐलान किया। किसानों के लिए योजना का ऐलान करते हुए पीएम मोदी और उनके मंत्रियों ने काफी देर तक संसद में तालियां बजाईं। हिंदुस्तान के किसानों के लिए दिन का 3 रुपये देकर वे ताली बजा रहे थे। पीएम मोदी अनिल अंबानी को 30 हजार करोड़ रुपये दिलवाते हैं। दूसरे उद्योगपतियों का लाखों करोड़ रुपये माफ करते हैं, लेकिन किसानों को दिन का 3 रुपये देते हैं।”