फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क
Published: 27 Mar 2019, 5:56 PM
Engagement:
591
भारतीय जनता पार्टी के महासचिव पी मुरलीधर राव पर गंभीर आरोप लगे हैं। मुरलीधर राव पर हैदराबाद के एक रियल एस्टेट कारोबारी ने धोखाधड़ी के आरोप लगाए हैं। दरअसल रक्षा मंत्री के फर्जी दस्तखत दिखाकर एक कारोबारी से 2.17 करोड़ रुपए ठगने का मामला सामने आया है। इस आरोप में बीजेपी सचिव मुरलीधर राव और 8 अन्य के खिलाफ हैदराबाद पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में केस भी दर्ज किया गया है। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सरूरनगर थाने में रियल एस्टेट कारोबारी महिपाल रेड्डी की पत्नी प्रवर्णा रेड्डी की शिकायत पर यह मामला दर्ज किया गया है।

शिकायतकर्ता का कहना है कि बीजेपी महासचिव और 8 दूसरे लोगों ने उनके पति महिपाल रेड्डी को लाभ का पद देने का झूठा वादा किया था। उनका कहना है कि इसके लिए उनसे 2.17 करोड़ रुपए की मांग की गई थी, जो उन्हें दिया भी गय था। शिकायत में मुरलीधर राव पर कारोबारी से पैसा ठगने के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के फर्जी हस्ताक्षर का इस्तेमाल करने का भी आरोप है। शिकायतकर्ता ने कहा है कि पैसा लेने के लिए रक्षामंत्री के फर्जी हस्ताक्षर वाला एक नियुक्ति पत्र दिखाया गया। पुलिस ने सभी 9 आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 406, 420, 471(धोखाधड़ी), 506 (आपराधिक गतिविधि) और 120-बी (आपराधिक षडयंत्र) के तहत मामला दर्ज किया है।

हालांकि बीजेपी महासचिव पी मुरलीधर राव ने इन आरोपों से इनकार किया है। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के रिपोर्ट के मुताबिक मुरलीधर राव का कहना है कि उनके ऊपर लगे आरोप बेबुनियाद और झूठे हैं।