अखबारनामा

अख़बार नामा: ख़बर नहीं बस ख़बरों के नाम पर अख़बार छपता है, हिन्दुस्तान छपता है…रवीश कुमार ने आज फिर ली ‘हिंदुस्तान’ की क्लास!

रवीश कुमार ख़बर नहीं बस ख़बरों के नाम पर अख़बार छपता है, हिन्दुस्तान छपता है… गर्त इतना गहरा हो गया है कि बात में तल्ख़ी और सख़्ती की इजाज़त मांगता हूं। आप आज का हिन्दुस्तान […]

अखबारनामा

रवीश कुमार की रिपोर्ट: ‘द हिंदू’ ने करप्ट मोदी सरकार को नंगा करना जारी रखा, पढ़िए आज का खुलासा

रवीश कुमार किसके लिए रफाल डील में डीलर और कमीशनखोर पर मेहरबानी की गई… आज के हिन्दू में रफाल डील की फाइल से दो और पन्ने बाहर आ गए हैं। इस बार पूरा पन्ना छपा […]

बरास्ता सोशल मीडिया

सुप्रीम कोर्ट की मायावती पर टिप्पणी: बात निकली है तो दूर तलक भी जाएगी

2009 में दाखिल सार्वजनिक हित की एक याचिका पर सुनवाई करते समय सुप्रीम कोर्ट ने राय व्यक्त की है कि मायावती को लखनऊ और नोएडा में अपनी व हाथियों की प्रतिमाओं को लगाने में खर्च […]

बरास्ता सोशल मीडिया

विचार: अम्बानी के हित के लिए मोदीजी ने अमेरिका को भी नाराज कर दिया!

गिरीश / समर Girish Malviya : अम्बानी के मोटे चुनावी चंदे की चाहत में मोदीजी ने अमेरिका को भी नाराज कर दिया है। कल खबर आई है कि अमेरिका, भारत से यूएस ट्रेड कन्सेशन वापस […]

अखबारनामा

अखबार नामा: रवीश ने ‘हिंदुस्तान’ अख़बार की आज कर दी तगड़ी समीक्षा, आप भी पढ़िये!

रवीश कुमार रफाल पर ख़बर तो पढ़ी लेकिन क्या हिन्दुस्तान के पाठकों को सूचनाएँ मिलीं… हिन्दुस्तान अख़बार ने रफाल मामले को लेकर पहली ख़बर बनाई है। ख़बर को जगह भी काफी दी है। क्या आप […]

नज़रिया

प्रधानमंत्री को झूठ नहीं बोलना चाहिए- रवीश कुमार

Ravish Kumar : प्रधानमंत्री को झूठ नहीं बोलना चाहिए, इतना भी नहीं कि हँसी भी न आए… कौन मानता है इस देश में कि लूट सौ फ़ीसदी ख़त्म हो गई है। प्रधानमंत्री ने एक क़ानून […]

नज़रिया

पड़ताल: क्या कुंभ में करोड़ों लोगों के आने-नहाने का दावा झूठा है?

शासन प्रशासन प्रत्येक स्नान पर स्नाननार्थियों का एक आंकड़ा जारी करता है जो करोड़ों में होता है, पर स्थिति क्या है ये स्थानीय (प्रयागराज वासी) सहित बाहरियों को भी पता है। हां, सुरक्षा व्यवस्था की बात करें तो अब तक कुंभ क्षेत्र में लगभग 5 से 6 बार आग लग चुकी है जिसमें कई पंडाल जलकर स्वाहा हो गए, स्थिति ठीक है कि कोई हताहत नहीं हुआ, सुविधाओं का ये आलम है कि शौचालय है तो पानी नहीं, पानी है तो शौचालय इतनें गंदे पड़े हैं कि आप उपयोग में ही नहीं ले सकते। […]

नज़रिया

ईवीएम हैक शुजा प्रेस कांफ्रेंस पर क्या कहते हैं रवीश कुमार, पढ़िए

रवीश कुमार Ravish Kumar : ईवीएम की बात पर बेशक हंसिए, क्या उन हत्याओं पर भी हंसेंगे जिनका ज़िक्र शुजा ने किया है. लंदन के इस प्रेस कांफ्रेंस की पत्रकारों के बीच कई दिनों से […]

नज़रिया

विचार और विश्लेषण: EVM हैकर का दावा कोरी किस्सागोई है क्या कुछ हकीकत भी है?

जिस कार का एक्सीडेंट हुआ था, जिसमें मुंडे मृत पाए गए थे, वह थाना तुगलक रोड, नई दिल्ली में है. उसे हालत देखकर नहीं लगता कि इतने मामूली एक्सिडेंट में किसी की जान जा सकती है. और बाकी दो लोग इतने स्वस्थ बच गए कि मुंडे को अस्पताल ले गए और बयान भी दे दिया? अगर मुंडे के साथ हुई घटना की सर्वदलीय संसदीय समिति की निगरानी में जांच कराई जाए, तो चौंकाने वाले तथ्य सामने आ सकते हैं. […]

नज़रिया

नज़रिया: जेट एयरवेज के सौदे की सच्चाई देश के सामने लाने की हिम्मत किसी मीडिया हाउस में नहीं है!

गिरीश मालवीय अब तक मोदी सरकार प्रत्यक्ष रूप में देशी उद्योगपतियों पर मेहरबानी दिखा रही थी लेकिन अब वह खुलकर विदेशी उद्योगपतियों पर भी मेहरबान हो गयी है. एक विदेशी कम्पनी का एक भारतीय एयरलाइंस […]